आज के समय में लोग काम में इतने व्यस्त हो गए हैं कि उन्हें दो पल खुद का ख़याल रखने का भी समय नहीं मिल पाता है। इस वजह से उन्हें कई तरह की छोटी-छोटी शारीरिक समस्याओं का सामना करना पड़ता है। हालांकि जिन लोगों को ज्यादा समय नहीं मिल पाता है, उन्हें केवल अपने पैरों के तलवों की मालिश करने की जरुरत है, उन्हें कई परेशानियों से पाने आप छुटकारा मिल जायेगा। आज हम आपको तलवों की मालिश का तरीका और इसके फायदे के बारे में बताएँगे।

तलवों की मालिश का तरीका:

सबसे पहले एक तब में गुनगुना पानी भर लें। तब में सरसों या नारियल तेल की कुछ बूंदे डालिए। अब अपने पैरों को तब में 10-15 मिनट के लिए डालकर छोड़ दें। बाद में पैरों को निकलकर उन्हें साफ़ तौलिये से पोछ लें। अब सरसों या नारियल के तेल को हल्का गुनगुना करले तलवों की अच्छे से मालिश करें। लगभग 10-15 मिनट तक हल्के हाथों से तलवों की मालिश करें और सो जाएँ।

तलवों की मालिश से होने वाले फायदे:

*- रक्त संचार:

मालिश कहीं की भी हो उससे रक्त संचार अच्छी तरह से होता है। पुरे दिन चप्पल या जूते पहनने से खून पैरों तक सही से नहीं पहुँच पाता है। कई बार इससे पैरों में दर्द होने लगता है तो कई बार वह सुन्न भी पड़ जाते हैं। इससे बचने के लिए सोने से पहले हर रोज 10 मिनट तक पैरों के तलवों की मालिश जरुर करें।

*- अच्छी नींद:

रात में अच्छी नींद ना आने से सुबह किसी भी काम में मन नहीं लगता है। साथ ही डाइजेशन की भी समस्या होने लगती है। तलवों की मालिश करने से दिमाग शांत रहता है और नींद भी अच्छी आती है।

*- तनाव से छुटकारा:

काम ज्यादा होने की वजह से कोई भी व्यक्ति तानाव्का शिकार हो जाता है। ऐसे में शरीर को थोड़े आराम की जरुरत होती है। हर रोज सोने से पहले तलवों की मालिश से दिमाग शांत रहता है और व्यक्ति तानव से भी बचा रहता है।

*- दर्द से छुटकारा:

अगर घुटनें या पैरों में दर्द हो रहा हो तो ऐसे में तलवों की मालिश से काफी आराम मिलता है। तलवों की मालिश से मांशपेशियों को आराम मिलता है और दर्द से भी राहत मिलती है।

*- संतुलित रहता है रक्तचाप:

पैरों तक सही तरह से रक्त संचार ना होने की वजह से उच्च रक्तचाप की समय हो जाती है। ऐसे में तलवों की मालिश काफी फायदेमंद साबित होता है।